Daily Current Affairs (Hindi) - 09.04.2018


http://www.iasexamcentre.com/community/images/tyththththth.jpg

आरएच-300 रॉकेट लॉन्च

7 अप्रैल 2018 को इसरो ने विक्रम साराभाई स्पेस सेंटर द्वारा विकसित आरएच (रोहिणी) -300 MKII ध्वनि रॉकेट को केरल के थिरुवनंतपुरम, थुम्बा इक्वेटोरियल रॉकेट लॉन्चिंग स्टेशन से सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया।

  • इस रॉकेट का उपयोग इक्वेटोरियल ई और वायुमंडल के निम्न आयनोफ़ेयर क्षेत्रों का अध्ययन करने के लिए किया जाएगा।
  • यह अध्ययन उष्णकटिबंधीय मौसम पूर्वानुमान के लिए आवश्यक डाटा उपलब्ध कराएगा।
  • इस प्रयोग का उद्देश्य स्वदेशी तौर पर विकसित इलेक्ट्रॉन घनत्व और तटस्थ पवन जांच (एनवाईआई) का प्रयोग करके भूमध्यरेखीय आयनोस्फीयर के डायनेमो क्षेत्र (80-120 किमी) में तटस्थ हवा को मापना है।
  • यह आरएच 300 ध्वनि रॉकेट का 21वां सफल प्रक्षेपण था, जिसे पूर्व में 2 मई 1965 को सेंटएअर रॉकेट के जरिये लॉन्च किया जाता था।

http://www.iasexamcentre.com/community/images/fdfgefghgsdfgvsdfg.jpg

गगन शक्ति 2018

भारतीय वायुसेना “गगन शक्ति 2018” युद्ध अभ्यास का आयोजन प्रारंभ करेगा। यह युद्ध अभ्यास पाकिस्तान और चीनी सीमाओं के नजदीक भारतीय वायु सेना द्वारा 10-22 अप्रैल 2018 के मध्य आयोजित किया जाएगा। इस अभ्यास का उद्देश्य लघु और तीव्र युद्ध परिदृश्य में वास्तविक समय समन्वय और वायु शक्ति की तैनाती करना है।

  • यह वायु सेना अभ्यास वास्तविक समय की स्थिति में वायु योद्धाओं के युद्ध लड़ने के कौशल को ओर अधिक बेहतर बनाने और भारतीय सेना की क्षमता में बढ़ोतरी की पुष्टि करने के लिए आयोजित किया जा रहा है।
  • इस अभ्यास के दौरान वायु सेना प्रमुख के आदेशों के 48 घंटों के भीतर भारतीय वायु सेना अपनी सभी 1100 से अधिक लड़ाकू परिवहन और हेलीकॉप्टर विमानों को वास्तविक समय युद्ध परिदृश्य में संचालित करेंगी।
  • यह युद्ध क्षेत्र पश्चिमी क्षेत्र में पाकिस्तानी सीमा और उत्तरी क्षेत्र में चीन की सीमा पर आयोजित किया जाएगा। इस अभ्यास में वायुसेना अपनी मल्टी स्पेक्ट्रम क्षमताओं, आक्रामक और रक्षात्मक दोनों को प्रदर्शित करेगा।
  • युद्धकालीन अभ्यास के अलावा, वायुसेना विभिन्न मानवीय सहायता और आपदा राहत (एचएडीआर) अभ्यासों का भी अभ्यास करेगी।

http://www.iasexamcentre.com/community/images/WHO.jpg

विश्व स्वास्थ्य दिवस

विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा प्रतिवर्ष 7 अप्रैल को विश्व स्वास्थ्य दिवस के रूप में आयोजित किया जाता है। यह दिवस लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागरुक रहने का संबंधित सरकारों को स्वास्थ्य नीतियों के निर्माण और क्रियान्वयन के लिए प्रेरित करता है।

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन की स्थापना 7 अप्रैल 1948 को हुई थी, जिसके उपलक्ष्य में प्रतिवर्ष 7 अप्रैल को विश्व स्वास्थ्य दिवस के रूप में आयोजित किया जाता है।
  • विश्व स्वास्थ्य दिवस विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा चिह्नित आठ आधिकारिक वैश्विक स्वास्थ्य अभियानों में से एक है, जिसमें विश्व के क्षयरोग दिवस, विश्व प्रतिरक्षण सप्ताह, विश्व मलेरिया दिवस, विश्व तंबाकू दिवस, विश्व एड्स दिवस, विश्व रक्तदाता दिवस और विश्व हेपेटाइटिस दिवस शामिल है।
  • 7 अप्रैल 2018 को आयोजित विश्व स्वास्थ्य दिवस का विषय “सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज” है।

 


http://www.iasexamcentre.com/community/images/sdsdsdsdsd.jpg

UK का पहला स्थायी मध्य पूर्व सैन्य आधार

  • UK ने बहरीन के फारसी खाड़ी देश में 4 दशकों से अधिक समय में मध्य पूर्व में अपना पहला स्थायी सैन्य अड्डा शुरू किया है।
  • मीना सलमान में £40 मिलियन की UK नौसेना सहायता सुविधा ‘जुफैर’ को 500 सैनिकों, नाविकों और विमान-चालकों से लैस किया जाएगा।
  • दोनों देश आशा करते हैं कि यह आधार रॉयल नेवी और उसके बहरीन समकक्ष के बीच सैन्य सहयोग को बढ़ाएगा।

http://www.iasexamcentre.com/community/images/fgwergw3rgwergweg.jpg

चक्रवात: भारतीय नौसेना और केरल सरकार (कोच्चि कोस्ट)

6 अप्रैल 2018 को भारतीय नौसेना ने बहु एजेंसी मानवतावादी सहायता और आपदा राहत कार्यक्रम “चक्रवात” का आयोजन किया। यह कार्यक्रम कोच्चि कोस्ट पर केरल सरकार के समन्वयक के साथ आयोजित किया गया।

  • इस व्यायाम का मुख्य उद्देश्य एक तूफान की स्थिति में प्रतिक्रिया तंत्र की समीक्षा करना था। यह अभ्यास 5-8 अप्रैल तक आयोजित किया जाएगा।
  • इस अभ्यास में तीनों सेवाओं तटरक्षक बल, राज्य प्रशासन, राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल ने मत्स्य विभाग तटीय पुलिस और मछली पकड़ने वाले समुदाय के सदस्य शामिल थे।
  • इस अभ्यास के दौरान समुद्र तट के बड़े पैमाने पर आपदा के स्तर पर आपदा निवारण के लिए हवाई सर्वेक्षण, बचाव और राहत अभियानों, बंदरगाह निकासी संचालन और प्रदूषण नियंत्रण जैसे गतिविधियों की श्रृंखला भी शामिल की गई।
     

http://www.iasexamcentre.com/community/images/rtytytytyty.jpg

सानसर गांव: जम्मू का प्रथम ट्यूलिप उद्यान

जम्मू क्षेत्र का प्रथम ट्यूलिप गार्डन रामबन जिले के सानसर गांव में स्थापित किया गया है। यह ट्यूलिप उद्यान जम्मू कश्मीर क्षेत्र के श्रीनगर स्थित ट्यूलिप उद्यान के उपरांत राज्य का दूसरा ट्यूलिप उद्यान होगा।

  • यह ट्यूलिप उद्यान सानासर स्वास्थ्य रिसोर्ट द्वारा स्थापित किया गया, जिसे फूलों की खेती विभाग द्वारा विकसित किया गया।
  • सोलहवीं शताब्दी में मुगलों ने कश्मीर को सुखद और समृद्धशाली बनाने के उद्देश्य से ट्यूलिप उद्यान निर्माण परियोजना का शुभारंभ किया था। यह उद्यान जबरवान पहाड़ियों की ढलान में स्थापित किया गया था।
  • प्रतिवर्ष 1 से 15 अप्रैल के मध्य जम्मू कश्मीर क्षेत्र में ट्यूलिप उत्सव का आयोजन किया जाता है।
  • इंदिरा गांधी मेमोरियल ट्यूलिप गार्डन 30 हेक्टेयर भूमि क्षेत्र में फैला, एशिया का सबसे बड़ा ट्यूलिप गार्डन है। यह बगीचा 2007 में खोला गया था।

http://www.iasexamcentre.com/community/images/sdfsesdsddsd.jpgवन धन विकास केंद्र: बीजापुर, छत्तीसगढ़

केंद्रीय जनजातीय मामलात मंत्रालय ने बीजापुर, छत्तीसगढ़ में देश के प्रथम “वन धन विकास केंद्र” की स्थापना संबंधी प्रस्ताव को सहमति प्रदान की।

  • इस विकास केंद्र का मुख्य उद्देश्य क्षेत्र में वन उत्पादन की दर को बढ़ाना है।
  • यह योजना जंगलों में रहने वाले आदिवासियों के सामाजिक आर्थिक विकास के लिए तैयार की गई है, जिनके लिए माइनर फॉरेस्ट प्रोडक्शन (MFP) एकत्रित करना आजीविका का प्रमुख स्रोत है।
  • वन धन विकास केंद्र, केंद्र सरकार की “न्यूनतम सहायता मूल्य” के माध्यम से MFP के लिए मूल्य श्रृंखला को विकसित करेगी और लघु वन उत्पादन विपणन के लिए आवश्यक तंत्र का गठन भी करेगी।
  • लघु वन उत्पादन विपणन के लिए क्षेत्र के नागरिकों को कौशल उन्नयन का प्रशिक्षण दिया जाएगा, जिसमें उन्हें महुआ के फूलों और चिरंजीवी की पैकेजिंग के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा।
     

जापान द्वारा WW2 के बाद से पहली समुद्री इकाई सक्रिय

  • जापानी द्वीपों पर कब्जा करने वाले आक्रमणकारियों का मुकाबला करने के लिए जापान ने द्वितीय विश्व युद्ध के बाद से अपनी पहली समुद्री इकाई को सक्रिय कर दिया है।
  • एम्फीबियस रैपिड डिप्लॉयमेंट ब्रिगेड बढ़ते समुद्री बल का नवीनतम घटक है जिसमें उभयचर जहाज और हमले के वाहन शामिल हैं।
  • WW2 के बाद, जापान के संविधान में एक खंड लिखा गया था जिसमें कहा गया था कि युद्ध में सक्षम सशस्त्र बलों को कायम रखने की संभावना नहीं होगी।

http://www.iasexamcentre.com/community/images/qweqweqweqweqw.jpg

फिएट/Fiat डिजिटल मुद्रा

6 अप्रैल 2018 को भारतीय रिजर्व बैंक में भारत सरकार द्वारा समर्थित फिएट/Fiat डिजिटल मुद्रा की व्यवहार्यता पर अध्ययन और मार्गदर्शन हेतु एक अंतर विभागीय समूह का गठन किया। जिसे जून 2018 के अंत तक अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करनी होगी।

  • फिएट डिजिटल मुद्रा (या सेंट्रल बैंक डिजिटल मुद्रा) फ़ैट्ट मनी का डिजिटल रूप है, जिसे सरकारी विनियमन या कानून द्वारा मुद्रा के रूप में स्थापित किया जाएगा। यह मुद्रा निजी डिजिटल टोकन के विपरीत, केंद्रीय बैंक द्वारा फ़ैटी डिजिटल मुद्रा जारी की जाएगी। दुनियाभर के केंद्रीय बैंक तकनीकी विकास के साथ तेजी से बदलते हुए भुगतान माध्यमों के परिदृश्य में फिएट/Fiat डिजिटल मुद्रा को पेश करने के विकल्प तलाश रहे हैं।
  • फिएट डिजिटल मुद्रा केंद्रीय बैंक की देयता का गठन करेगी, और व्यापक रूप से इस्तेमाल किए गए कागज और धातु मुद्रा के स्थान पर संचालन में होगी। वे BlockChain तकनीक पर आधारित होंगे, जो बिटकॉइन जैसी अनियमित आभासी मुद्राओं की रीढ़ है। वे वर्चुअल मुद्राओं की तुलना में कानूनी निविदा होगी जो उपभोक्ता संरक्षण, बाजार की अखंडता और धन-शोधन का ध्यान रखेगी।
  • यह आभासी मुद्रा पेपर और धातु मुद्रा की बढ़ती लागत को रोकने और विकल्प तलाश करने के उद्देश्य से प्रारंभ की जा रही है।
  • फिएट/Fiat डिजिटल मुद्रा की संभावनाओं पर एक वैश्विक चर्चा का आरंभ बैंक ऑफ इंग्लैंड द्वारा सर्वप्रथम किया गया था।
  • जिसके तहत नवंबर 2017 में उरुग्वे देश के केंद्रीय बैंक में डिजिटल Uruguayan pesos जारी करने की घोषणा की है।

http://www.iasexamcentre.com/community/images/sdsdsdsdssdsdsdsd.jpg

पार्कर सौर प्रोब : सूर्य के लिए पहली उड़ान

  • सूर्य तक पहुँचने के लिए मानवता का पहला मिशन – NASA का पार्कर सौर प्रोब अंतिम तैयारी के दौर से गुजर रहा है।
  • यह मिशन 31 जुलाई, 2018 को प्रक्षेपण के लिए निर्धारित है।
  • पार्कर सौर वायुमंडल कोरोना के माध्यम से सीधे कक्षा का चक्कर लगाएगा, जो किसी भी मानव निर्मित वस्तु की तुलना में सतह के सबसे करीब है।

http://www.iasexamcentre.com/community/images/erghgvsdfgsdf.jpg

इंडो-कोरियाई संयुक्त अभ्यास SAHOOG-HYEOBLYEOG

  • चेन्नई तट पर भारत-कोरियाई संयुक्त समुद्री डकैती विरोधी, खोज और बचाव अभ्यास ‘SAHOOG-HYEOBLYEOG 2018’ आयोजित किया गया था।
  • यह संयुक्त अभ्यास पिछले 12 वर्षों से दोनों तट रक्षकों के बीच सहकारी व्यवस्थाओं का हिस्सा है।
  • इस अभ्यास का उद्देश्य समुद्री खोज और बचाव, समुद्री डकैती विरोधी गतिविधियों के क्षेत्र में कार्य-स्तर सहयोग और अंतर-संचालन को विकसित करना है।